मौसम अपडेटः मकर संक्रांति पर कंपकंपाती ठंड से ठिठुरा उत्तर भारत

0
817
File Photo

नई दिल्ली: मकर संक्रांति के दिन उत्तर भारत के अधिकांश इलाकों में सुबह से ही घना कोहरा छाया हुआ है। कंपकंपाती ठंड ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। ठंड से बचने के लिए लोग गर्म कपड़े और आग का सहारा ले रहे हैं। जम्मू-कश्मीर ने तो ठंड का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। श्रीनगर में तो डल झील भी पूरी तरह से ठंड की वजह से जम चुकी है।

बर्फ से ढके पश्चिमी हिमालय से उत्तरी-पश्चिमी सर्द हवाओं के शनिवार से मैदानी इलाकों की ओर आने के साथ ही न्यूनतम तापमान में गिरावट आनी शुरू हो गई है। राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोहरे ने लोगों की मुश्किलें और बढ़ा दी है। विजिबिलिटी कम होने होने की वजह से मुसाफिरों की रफ्तार धीमी पड़ गई है। सुबह के वक्त दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में तापमान में अच्छी खासी गिरावट दर्ज की गई। आने वाले दिनों में भी दिल्ली, यूपी, हरियाणा में सर्द हवाओं से राहत नहीं मिलेगी।

मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों के लिए उत्तर भारत में ठंड का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मकर संक्रांति पर भी उत्तराखंड के मैदानी इलाकों में कोहरा और सर्द हवाएं मुश्किलें बढ़ा रही हैं। हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में अगले दो दिन शीत दिवस लहर को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। राजस्थान में भी शीत लहर का प्रकोप जारी है। वहां के कई शहरों में तो तापमान माइनस डिग्री तक पहुंच गया है। वाराणसी और प्रयागराज में भी अधिकतम तापमान 20 डिग्री से कम ही दर्ज किया गया।

बिहार में भी ठंड बनी हुई है। यहां पर भी छह से आठ डिग्री सेल्सियस के बीच न्यूनतम तापमान रहने की आशंका जताई गई है। वहीं 17 से 19 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान रहने की संभावना है। वहीं चक्रवात के प्रभाव से तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, केरल, माहे और लक्षद्वीप में अगले तीन दिन बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने बुधवार से लेकर अगले तीन दिन तक तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में तेज तूफान के साथ बारिश की आशंका जतायी है।

विज्ञापन