दिलीप घोष के खिलाफ तृणमूल ने दर्ज करायी एफआईआर

0
84
File photo

कोलकाताः प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस ने एफआईआर दर्ज करायी है। दरअसल दिलीप घोष के गोली मारने वाले विवादित बयान के खिलाफ तृणमूल ने राणाघाट थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। वहीं उत्तर 24 परगना में दिलीप के खिलाफ एक और एफआईआर दर्ज कराई गई है।

उल्लेखनीय है कि रविवार को नदिया जिले के राणाघाट में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिलीप घोष ने एक विवादित बयान दिया था। घोष ने कहा था कि आप यहां आते हो, हमारा खाना खाते हो, यहां रहते हो और सार्वजनिक संपत्ति को नष्ट करते हो। क्या यह आपकी जमिंदारी है? साथ ही उन्होंने कहा कि हम आपको लाठी से मारेंगे, गोली मारेंगे और जेल में डालेंगे।

सभा को संबोधित करते हुए घोष ने कहा था कि क्या यह उनके पिताजी की संपत्ति है? वह कैसे सरकार की संपत्ति को नुकसान पहुंचा सकते हैं जो करदाताओं के पैसों से बनी है? उत्तर प्रदेश, असम और कर्नाटक की सरकारों ने ऐसे राष्ट्र विरोधी तत्वों पर गोली चलाकर बिल्कुल ठीक काम किया।

दिलीप घोष के इस बयान की आलोचना शुरू हो गई है। आसनसोल से भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो ने घोष के बयान को गैर-जिम्मेदराना बताया है। एक विवादित बयान के 24 घंटा बीता तक की नहीं दिलीप घोष का एक और विवादित बयान सामने आ गया है। खड़गपुर में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में हुई एक बैठक में घोष ने कहा कि देश में सबसे अधिक देशद्रोही बंगाल में भरे हुए हैं।

विज्ञापन