आज पृथ्वी के पास से गुजरेगा बड़ी बस के आकार का उल्कापिंड

0
1752
File Photo

वॉशिंगटनः अमेरिकी एंजेसी नासा ने जानकारी दी है कि गुरुवार यानी की आज पृथ्वी के पास से एक बड़ी बस के आकार का उल्कापिंड गुजरेगा। इस उल्कापिंड का नाम 2020 SW है। नासा ने जानकारी दी है कि यह उल्कापिंड पृथ्वी के 13,000 मील (22,000 किलोमीटर) के पास से गुजर सकता है।

यह दूरी पृथ्वी की परिक्रमा करने वाले कई संचार उपग्रहों के पास बताई जा रही है। वैज्ञानिकों ने बताया है कि आज दोपहर दक्षिण-पूर्वी प्रशांत महासागर के ऊपर से यह उल्कापिंड गुजर सकता है। बताया जा रहा है कि इस उल्कापिंड का आकार 15 फीट और 30 फीट (4.5 मीटर से 9 मीटर) के बीच है।

नासा के जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी में सेंटर फॉर नियर-अर्थ ऑब्जेक्ट स्टडीज़ के निदेशक पॉल चोडास का कहना है कि इस आकार के उल्कापिंड साल में दो या उससे ज्यादा बार पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करते रहते हैं। पृथ्वी के पास सूर्य का चक्कर लगाने वाले इन छोटे उल्कापिंड की संख्या लगभग 100 मिलियन हो सकती है।

इस ऑबजेक्ट को सबसे पहले 18 सितंबर को ही देखा गया था। इसे एक प्रोजेक्ट के दौरान नासा द्वारा एरिजोना के टक्सन में खोज निकाला गया था, जिसके बाद वैज्ञानिक इसपर लगातार नजर बनाए हुए थे। अनुमान लगाया गया है कि आज पृथ्वी के पास से गुजरने के बाद यह उल्कापिंड साल 2041 से पहले धरती के करीब से होकर नहीं गुजरेगा।

बता दें कि नासा ने साफ कर दिया है कि इससे पृथ्वी को किसी प्रकार का खतरा नहीं है। क्योंकि अगर ऐसा होता तो पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करते ही यह आग के गोले में बदल जाता और कई छोटे छोटे टुकड़ों में विभाजित हो जाता। वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारे सौर मंडल में क्षुद्रग्रह का पृथ्वी के पास से गुजरना और पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण बल से खींच कर पृथ्वी पर आना कोई बड़ी बात नहीं है। ऐसी घटना हर साल देखने को मिलती है।

विज्ञापन