थरथराती ठंड में भी चीनी सेना पर भारी पड़ेगी इंडियन आर्मी

0
917

लद्दाखः पूर्वी लद्दाख में एलओसी सीमा पर चीन और भारत के बीच एक लंबे वक्त से विवाद जारी है। अब लद्दाख की भीषण ठंड में भी इंडियन आर्मी चीनी सेना का जमकर मुकाबला करने के लिये पूरी तरह से तैयार है। सीमा पर तैनात इंडियन आर्मी के लिए अमेरिका से कपड़े इम्पोर्ट किया गया हैं।

गर्म कपड़ों के साथ ही जवानों को एसआईजी असॉल्ट राइफल दी गई है। सैन्य अधिकारियों ने कहा है कि बेहद सर्द मौसम में चुनौतियों से निपटने के लिए जवानों को खास कपड़े और हथियार दिए गए हैं। अब कंपकंपाती ठंड में भी इंडियन आर्मी के जवान पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी के सैनिकों से डटकर मुकाबला करेंगे।

सूत्रों ने बताया है कि भारतीय सेना भीषण ठंड के लिए अपने पास करीब 60 हजार सैनिकों के हिसाब से विशेष कपड़ों का स्टॉक रखती है। सूत्रों का कहना है कि इन सेटों में से लगभग 30,000 अतिरिक्त की आवश्यकता थी, क्योंकि एलएसी पर चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की आक्रामकता को देखते हुए इस क्षेत्र में 90,000 के करीब सैनिक तैनात हैं।

अमेरिका से भारत कई हथियार ले रहा है। इसमें विशेष बलों के लिए कई असॉल्ट राइफलें सहित पैदल सेना के जवानों के लिए सिगसउर असॉल्ट राइफलें शामिल हैं। हाल ही में रक्षा मंत्रायल ने अमेरिका से 72,500 सिग सउर असॉल्ट राइफलों के दूसरे बैच को मंजूरी दी थी। इनमें से पहले असॉल्ट राइफलों को जम्मू-कश्मीर में आतंकरोधी अभियानों के लिए तैनात सैनिकों को दी गई हैं।

वहीं दूसरे बैच की राइफलों को भारत-चीन सीमा पर तैनात जवानों को दिया जाएगा। रक्षा सूत्रों द्वारा बुधवार को जारी एक फोटो में दिखाया गया कि इंडियन आर्मी के एक जवान ने हाल ही में आर्मी को मिले एसआईजी सॉयर असॉल्ट राइफल के साथ सफेद पोशाक पहना हुआ है। सेना, चीन सीमा पर तैनाती के दौरान सर्दियों को मात देने में मदद करने के लिए सैनिकों को नए ठिकाने और कपड़े मुहैया करा रही है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि मंगलवार को इंडियन आर्मी को अमेरिका से अत्यधिक ठंडे मौसम के कपड़ों का पहला बैच मिला है। अब साफ हो गया है कि लद्दाख की बर्फीली ठंड भी इंडियन आर्मी के पाक इरादों को नाकाम नहीं कर पायेगी। चीनी सेना को इस बार भारत के जवानों के सामने हार माननी ही पड़ेगी।

विज्ञापन