गणतंत्र दिवसः बलिदान देने वाले वीर सैनिकों को किया जायेगा सम्मानित

0
629
File Photo

नई दिल्लीः इस बार देश में 72वां गणतंत्र दिवस मनाया जायेगा। गणतंत्र दिवस के मौके पर हर साल देश की रक्षा के लिए जान की बाजी लगाने वाले सैनिकों को वीरता पुरस्कार दिया जाता है। इस साल भी देश की रक्षा के लिए अतुल्य योगदान देने वाले सैनिकों, पुलिसकर्मियों और देश के लिए बलिदान देने वाले वीर सैनिकों को सम्मानित किया जायेगा।

पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में चीन की सेना के साथ हुई हिंसक झड़प में अपनी जान गंवाने वाले कर्नल संतोष बाबू को इस साल महावीर चक्र से नवाजा जायेगा। वहीं पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान मोहन लाल को मरणोपरांत राष्ट्रपति सम्मान दिया जायेगा।

गृह मंत्रालय ने गणतंत्र दिवस से एक दिन पहले यह जानकारी दी है कि गणतंत्र दिवस मौके पर अपनी जान की परवाह किए बिना बड़ी ही कुशलता और सूझबूझ से लोगों की जान बचाने वाले देश के 73 अग्निशमन सेवा कर्मियों को सम्मानित किया जायेगा।

इनमें से आठ को राष्ट्रपति पुरस्कार मिलेगा। जबकि दो अग्निशमन कर्मियों को गैलेंट्री अवार्ड से सम्मानित किया जायेगा। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 131 जवान और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) 71 जवानों को देश की सुरक्षा में वीरता दिखाने के लिए सम्मानित किया जायेगा। जम्मू-कश्मीर के 71 कर्मियों, उत्तर प्रदेश के 87 और महाराष्ट्र के 57 पुलिसकर्मियों को विशिष्ट सेवा के लिए सम्मानित किया जायेगा।

आपको बता दें कि इस बार का गणतंत्र दिवस कोरोना काल के दौर में पहले से अलग होगा। परेड में राफेल जेट विमानों का प्रदर्शन किया जायेगा। कोविड -19 प्रोटोकॉल सुनिश्चित करने के लिए परेड में शामिल सैनिक मास्क पहने दिखाई देंगे और इसके साथ कई प्राथमिकताओं का खास ध्यान रखा जायेगा। इस बार गणतंत्र दिवस के जश्न में दर्शकों की संख्या को 25 हजार कर दिया है। जबकि, बीते साल यह आंकड़ा एक लाख 50 हजार का था। वहीं, पत्रकारों की संख्या में भी कटौती की गई है। इस बार 300 के बजाए 200 पत्रकार ही शामिल हो सकेंगे।

विज्ञापन