राजनाथ सिंह का बड़ा ऐलान, 101 रक्षा उपकरणों पर लगेगा प्रतिबंध

0
733
file photo

नई दिल्लीः भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को एक बड़ा ऐलान किया है। अब रक्षा मंत्रालय ने आत्‍मनिर्भर भारत अभियान को बड़ा बूस्‍ट देने की पूरी तैयारी कर ली है। रक्षा मंत्री ने रविवार सुबह कहा कि मंत्रालय ने 101 आइटम्‍स की लिस्‍ट तैयार की है जिनके आयात पर अब पूरी तरह से रोक लगेगी।

रक्षा मंत्री के मुताबिक, यह रक्षा क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता की दिशा में एक बड़ा कदम है। उन्‍होंने कहा कि यह फैसला पीएम नरेंद्र मोदी के आह्मन के बाद किया गया है। इस फैसले से भारत की डिफेंस इंडस्‍ट्री को बड़े पैमाने पर उत्‍पादन का मौका मिलेगा। इसके लिए पीएम ने आत्मनिर्भर भारत के नाम से एक विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की है।

बता दें रक्षा क्षेत्र में घरेलू उत्‍पादन को बढ़ावा देने के लिए मंत्रालय ने जो लिस्‍ट बनाई है वह सेना, पब्लिक और प्राइवेट इंडस्‍ट्री से चर्चा के बाद तैयार की गई है। रक्षा मंत्री के मुताबिक, ऐसे उत्‍पादों की करीब 260 योजनाओं के लिए तीनों सेनाओं ने अप्रैल 2015 से अगस्‍त 2020 के बीच लगभग साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये के कॉन्‍ट्रैक्‍ट्स दिए थे। सिंह का अनुमान है कि अलगे 6 से 7 साल में घरेलू इंडस्‍ट्री को करीब 4 लाख करोड़ रुपये के ठेके दिए जाएंगे। आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए केन्द्र सरकार का यह बड़ा ऐलान है।

इसके साथ आपको ये भी बता दें पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल पर तनाव बरकरार है। कुछ फ्रिक्‍शन पॉइंट्स से चीनी सेना पीछे हटी है मगर देपसांग और पैंगोंग त्‍सो में टस से मस होने को तैयार नहीं। भारत और चीन दोनों देश के बीच कोर कमांडर स्‍तर पर कई दौर की बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकलने के बाद, शनिवार को मेजर-जनरल स्‍तर की बातचीत शुरू हुई है। भारत ने साफ कहा कि देपसांग से चीन को अपने सैनिक वापस बुलाने होंगे।

विज्ञापन