इंडिगो मैनेजर की हत्या के बाद बिहार में गरमायी सियासत

0
1068
रुपेश सिंह का फाइल फोटो

पटनाः पटना में बीती शाम इंडियो के मैनेजर रुपेश कुमार सिंह एयरपोर्ट से काम करके घर वापस लौट रहे थे। इसी दौरान घर के बाहर ही दो बाइक सवार बदमाशों ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देकर अपराधी फरार हो गये। वहीं जिस जगह पर अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया वहां सीसीटीवी भी खराब पड़ा था।

पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही है लेकिन अभी तक अपराधियों की पहचान नहीं हो पाई है। अब इस घटना को लेकर बिहार की राजनीतिक सियासत में खूब हलचल मची हुई है। विपक्ष ने इस हत्याकांड पर राज्य सरकार पर निशाना साधा है। पप्पू यादव ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है।

वहीं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने मैनेजर रुपेश कुमार सिंह की हत्या पर अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि, बिहार में अब अपराधी ही सरकार चला रहे है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा, सत्ता संरक्षित अपराधियों ने पटना में एयरपोर्ट मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की उनके आवास के बाहर गोलियाँ मार हत्या कर दी।

वह मिलनसार और मददगार स्वभाव के धनी थे। उनकी असामयिक मृत्यु से बहुत दुःखी हूँ। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे। बिहार में अब अपराधी ही सरकार चला रहे है। लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने भी इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने लिखा कि इंडिगो के सीनियर मैनेजर को पटना में उनके घर के बाहर दिनदहाड़े गोलियों से भून दिया गया।

बेहतरीन इंसान थे रूपेश। एयरपोर्ट पर सबसे मिलनसार व् मददगार लोगों में थे। भगवान उनकी आत्मा को शांति दें। ये हत्या बिहार के लॉ एंड आर्डर पर बहुत गंभीर सवाल पैदा करती है। वहीं, बीजेपी के राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर ने रूपेश हत्याकांड को लेकर अपनी ही राज्य सरकार पर सवाल खड़े किए हैं।

विवेक ठाकुर ने कहा है कि रूपेश कुमार की हत्या जो कि किसी भी प्रकार से अपराधिक छवि के व्यक्ति नहीं थे, गंभीर चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि रुपेश हत्याकांड की जांच में पटना पुलिस को अगर तीन से पांच दिनों के अंदर सफलता नहीं मिलती है तो मामले को तुरंत सीबीआई को दे देना चाहिए। बीजेपी सांसद ने कहा कि यह घटना बिहार पुलिस पर प्रश्नवाचक चिन्ह है।

विज्ञापन