पीएम मोदी ने ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं की रखी आधारशिला

0
413
File Photo

नई दिल्ली: पीएम नरेन्द्र मोदी ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये यूपी के सोनभद्र और मिर्जापुर के लिए 23 ग्रामीण पाइप परियोजनाओं की आधारशिला रखी। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जनपद सोनभद्र से इस आयोजन में सम्मिलित हुए। इस वर्चुअल कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ ग्राम जल और स्वच्छता समिति पानी समिति के सदस्यों के साथ उनके अनुभव भी साझा किए।

देश में हर घर नल योजना के तहत 15 अगस्त 2019 को जल जीवन मिशन के आगाज का ऐलान किया था। इस योजना की शुरुआत से 42 लाख लोग लाभांवित होंगे। इसके लिए इन 2,995 गांवों में ग्राम जल और स्वच्छता समितियां, या पानी समितियों का गठन हो चुका है। पीएम मोदी द्वारा शिलान्यास की जाने वाली योजनाओं में जनपद मिर्जापुर की 09 तथा जनपद सोनभद्र की 14 ग्रामीण पाइप पेयजल योजनाएं शामिल हैं।

इन योजनाओं का क्रियान्वयन पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित ‘जल जीवन मिशन’ के तहत किया जा रहा है।जनपद सोनभद्र में 14 ग्रामीण पाइप पेयजल योजनाओं के माध्यम से 1,389 राजस्व ग्रामों की 19,53,458 आबादी को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। इन परियोजनाओं की कुल लागत 3,212 करोड़ रुपये है।

मिर्जापुर, सोनभद्र में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं के शिलान्यास समारोह के मौके पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, 70 साल में विंध्य क्षेत्र के केवल 398 गांवों में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं को विनियमित किया जा सका। आज हम इस क्षेत्र के 3,000 से अधिक गांवों में इस तरह की परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए हैं।

शिलान्यास कार्यक्रम की सुरक्षा में 3 एडिशनल एसपी, 8 सीओ, 100 सब इंस्पेक्टर, 500 कांस्टेबल, 5 कम्पनी पीएसी लगाई गई है। क्षेत्र के पूरे एरिया को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

परासी पेयजल पाइप लाइन परियोजना की लागत 312.51 लाख रुपये, झीलो, बीजपुर 727.59 लाख रुपये, अमवार 206.72 लाख रुपये, नगवां, तेंदुआही 220.40 लाख रुपये, बेलाही 222.29 लाख रुपये, हर्रा, कदरा और नेवारी 261.99 लाख रुपये, केवथा 108.89 लाख रुपये, पटवध पाइप लाइन पेयजल परियोजना की लागत 938.63 लाख रुपये है। इन सभी परियोजनाओं की कुल लागत 3212.18 करोड़ रुपये है।

विज्ञापन