शनिवार को पीएम मोदी देश को कोरोना वैक्सीन करेंगे समर्पित

0
1024
फाइल फोटो

नई दिल्लीः 16 जनवरी का पूरे देश को बेसब्री से इंतजार है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से लड़ने के लिये इस दिन पीएम मोदी पूरे राष्ट्र को कोरोना वैक्सीन समर्पित करने वाले हैं। साथ-साथ ही पीएम मोदी CO-WIN ऐप भी लॉन्च करेंगे। यह कोरोना के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, पीएम मोदी वर्चुअल तरीके से इस अभियान की शुरुआत करेंगे।

देश के अलग-अलग राज्यों में इस दौरान एक साथ कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत की जानी है। जिनको भी कोरोना वैक्सीन दी जायेगी, उन्हें दो डोज दिए जायेंगे। हर किसी को अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसी के बाद को-विन ऐप के जरिये टीका लगने की तारीख, स्थान और अन्य जानकारी आयेगी। दोनों डोज लगने के बाद व्यक्ति के फोन पर ही सर्टिफिकेट भी आ जायेगा।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना टीकाकरण की शुरुआत लोकनारायण जय प्रकाश अस्पताल में होगी। कोरोना वैक्सीन लोगों को प्राथमिकता के आधार पर लगाई जानी है। पहले चरण में करीब तीन करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी, जिनमें सबसे पहले हेल्थवर्कर्स को कोरोना का टीका लगेगा। हेल्थवर्कर्स को कोविशील्ड का डोज दिया जाएगा। उसके बाद बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स, 50 साल से अधिक उम्र वाले लोगों और गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को वैक्सीन की डोज दी जायेगी।

इस टीकाकरण अभियान से पहले ही पीएम मोदी ने यह पूर्ण रुप से स्पष्ट कर दिया कि पहले चरण में जिन तीन करोड़ लोगों को टीका लगना है, उनमें स्वास्थ्यकर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल हैं। इसमें जन प्रतिनिधि समेत कोई भी छलांग लगाने की कोशिश न करे। पीएम ने सभी सांसदों और विधायकों को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाने के प्रस्ताव को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि यह लोगों को बहुत ही बुरा संकेत देगा।

वहीं कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि यह टीका 28 दिनों के अंतर पर लगेगा और दूसरा टीका लगने के 14 दिनों के बाद उसका असर शुरू होगा। केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि टीका का असर खुराक पूरा होने के 14 दिनों बाद दिखना शुरू होगा।

विज्ञापन