फरक्का ट्रेन हादसे में बिहार के पांच लोगों की मौत

0
65

पटना: मालदा टाउन से नयी दिल्ली जा रही न्यू फरक्का एक्सप्रेस के इंजन और नौ डिब्बे बुधवार की सुबह उत्तर प्रदेश में रायबरेली के निकट हरचंदपुर के बाबापुर के करीब पटरी से उतर गई। हादसे में बिहार के पांच लोगों की मौत हो गई।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मारे गये लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए मृतक के शोकाकुल परिजनों को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की।

मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजन को तत्काल दो-दो लाख रुपये तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये का अनुग्रह अनुदान देने का निर्देश दिया है। जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के रायबरेली में गुरुवार सुबह छह बजे हुए न्यू फरक्का एक्सप्रेस हादसे में मुंगेर जिले के चार और किशनगंज जिले के एक व्यक्ति की मौत हो गई।

मुंगेर जिले के कौड़िया पंचायत के किशनपुर मुसहरी टोले के एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गयी। वहीं, लक्ष्मीपुर के एक व्यक्ति की मौत होने की सूचना है। जबकि, किशनगंज जिले के टेढ़ागाछ निवासी एक व्यक्ति की मौत हो गयी है।

बढ़ौना लक्ष्मीपुर निवासी 13 वर्षीय लल्लू कुमार ने रोते-रोते लल्लू ने बताया कि मंगलवार को ही मां-पिता और तीनों भाइयों को बरियारपुर रेलवे स्टेशन में न्यू फरक्का ट्रेन में चढ़ाया था। यह सभी उत्तर प्रदेश जा रहे थे। परिजन को अचानक फोन से जानकारी मिलने के बाद यह पता चला कि ट्रेन हादसे में पिता और मां गंभीर रूप से जख्मी हो गये हैं। वहीं, चार वर्षीय भाई दिनेश कुमार हादसे के बाद से लापता है।

अन्य भाई की भी स्थिति नाजुक बनी हुई है। लक्ष्मीपुर मांझी टोला में लोग रसिक मांझी के घर हादसे से जुड़ी जानकारी मिलने के बाद घर पर मौजूद पुत्र लल्लू कुमार को ढांढ़स बढ़ा रहे हैं। लल्लू की बहन सोनी कुमारी नानी घर पर है। फोन पर उसे भी हादसे की सूचना दे दी गयी है।