महंत परमहंस ने TMC सांसद का सिर काटने वाले को 5 करोड़ रुपये देने की घोषणा की

0
443

कोलकाताः तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने माता सीता पर घटिया टिप्पणी करने वाले तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी का सिर काटने वाले को पांच करोड़ रुपये इनाम देने की घोषणा की है। उधर एक और संत ने अनशन शुरू कर दिया है। हालांकि सांसद कल्याण बनर्जी ने अभी तक इस मुद्दे पर अपना मुंह नहीं खोला है।

आखिर महंत परमहंस ने क्या कहाः प्रयागराज से अयोध्या तक के संतों और सन्यासियों के एक बड़े वर्ग ने तृणमूल सांसद कल्याण बनर्जी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। महंत परमहंस दास ने कहा कि अगर कल्याण बनर्जी के खिलाफ जांच शुरू नहीं की गई तो वह सांसद का सिर काटने वाले को 5 करोड़ रुपये का इनाम देंगे। घटिया राजनीति के लिए देवताओं की निंदा की जा रही है। इसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

परमहंस दास ने कहा कि मां सीता एवं श्रीराम के बारे में तृणमूल सांसद कल्याण बनर्जी ने जो कुछ भी कहा है, वह असह्य है। हम श्रीराम को परात्पर ब्रह्म मानते हैं और उनका अपमान नहीं सहन कर सकते। टीएमसी सांसद ने तो मर्यादा का घोर उल्लंघन किया है। उधर प्रयागराज के स्वामी फलाहरी महाराज ने कल्याण बनर्जी के खिलाफ भूख हड़ताल शुरू कर दी है। उन्होंने दावा किया है कि सांसद के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं होने तक वह अपनी भूख हड़ताल जारी रखेंगे।

कल्याण बनर्जी ने दिया था विवादित बयानः हाल ही में उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कल्याण बनर्जी ने माता सीता को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने माता सीता की तुलना हाथरस की एक प्रताड़ित युवती से की थी।

इस दौरान उन्होंने कहा कि देवी सीता ने भगवान राम से कहा कि ये उनका सौभाग्य था कि उनका अपहरण रावण ने किया क्योंकि अगर भगवाधारी उनके अनुयायियों ने उनका अपहरण कर लिया होता, तो उनका भाग्य वैसा ही होता जैसा कि हाथरस दुष्कर्म पीड़िता का हुआ।

कल्याण बनर्जी की इस टिप्पणी के बाद विवाद शुरू हो गया। हाल ही में कल्याण बनर्जी के खिलाफ हावड़ा के गोलाबारी पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। भारतीय जनता युवा मोर्चा संगठन ने इसी मुद्दे पर तृणमूल सांसद के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

लगातार हो रहा विरोधः कल्याण बनर्जी के इस बयान के बाद बीजेपी ने तृणमूल को चौतरफा घेरना शुरू कर दिया। कल्याण बनर्जी के मां सीता पर दिए गए बयान को लेकर बीजेपी के वरिष्ठ नेता तथागत राय ने ट्वीट करते हुए कहा कि जानते हैं इस शख्स को?

कल्याण बनर्जी, एक हिंदू ब्राह्मण नाम के साथ तृणमूल सांसद हैं। वह कह रहे हैं सीताजी राम से कहती हैं, मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे रावण द्वारा अपहरण कर लिया गया था। अगर यह आपके भगवाधारी चेले किए होते तो मेरी हाथरस की दुष्कर्म पीड़िता जैसा हाल होगा। राम भक्तों, क्या आप जवाब देंगे?

विज्ञापन