मतगणना के दिन भी सुबह से राज्य रहा अशांत

0
334

कोलकाता: गुरुवार सुबह से ही राज्य के विभिन्न मतगणना केंद्र में गणना के दौरान अशांति लगी रही। राज्य के कुछ मतगणना केंद्रों में मतदान बक्सा छिनकर उसमें वोटिंग करने के खबर प्रकाश में रही, तो कहीं बमबाजी की घटना ।

सुबह मतगणना शुरु होते ही रज्या के कई जगहों पर अशांति फैलने की सूचना मिलने लगी। कोलकाता से सटे राजारहाट स्थित चांदपुर मतगना केंद्र में वोट गिनती के दौरान निर्दलीय उम्मीदवार के एजेंट को बुरी तरह मारापीटा गया। आरोप तृणमूल पार्टी समर्थकों के खिलाफ लगे है। आरोप यह भी लगे है कि मतगणना केंद्रों में विरोधी दल के समर्थकों और एजेंट को जाने से जबरन रोका गया।

मतगणना के दौराण कूचबिहार में भी अशांति की खबर है। वहीं नदिया जिले के कृष्णगंज ब्लाक में भी मतगणना के दौरान गणना कक्ष में जबरन घुसकर छप्पा वोट डालने का आरोप लगा है। इस घटना से इलाके में काफी उत्तेजना फैल गई। घटना 6 नंबर कमरे में सुबह उस समय हुई जब गणना का काम किया जा रहा था। इस घटना के बाद चुनाव आयोग के निर्देश के बाद कुछ समय के लिए गणना का काम बंद रखा गया। मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के नेतृत्व में भारी पुलिस बल पहुंची और घटना के बाद लोगों में फैले उत्तेजना को शांत किया।

उत्तर दिनाजपुर के चोपड़ा में विरोधी दल के खिलाफ बीडीओ कार्यालय में बम फैंकने और इलाके में गोली चलाने का आरोप लगा है। घटना में दो लोगों के जख्मी होने की सूचना है। घायलो को स्थानीय उत्तर बंगाल जिला अस्पातल में इलाच चल रहा है।

बर्धमान के मेमारी 1 नंबर ब्लाक और 2 नंबर निशिगंज के मतगणना केंद्र से भाजपा समर्थक एजेंटों को बाहर निकालने का आरोप लगा है। शासद दल के कर्मियों पर विरोधी दल के एजेंटों को प्रवेश नही करने देने का आरोप लगा है।

हांसखाली में मतगणना केंद्र में कांग्रेस, सीपीएम और निर्दलीय उम्मीदवार को अंदर जाने से जबरन रोका गया। आरोप हे की लगभग 30 निर्देलीय उम्मीदवारों को कृष्णानगर डीएम कार्यलय में प्रवेश करन से रोका गया।

वहीं बीरभुम जिले का मल्लारपुर मे भी मतगणना वाले दिन अशांती से अछुता नही रहा। यहां भाजापा और शासक दल के कर्मियों के बीच जमकर झड़प हुई। आरोपी है कि झ़ड़प इस कदर फैल गया कि एक दुसारे पर बम फैंके गए। बिगड़े हालतों पर नियंत्रण करने के लिए मौके पर भारी पुलिस बल पहुंची और दोनों पक्षों के समर्थकों पर जमकर लाठिय़ां बरसाई गई। जिसके बाद स्थिती को काबु में किया गया।

कूचबिहार के हल्दीबाडी़ पुलिस थाने के बाहर भाजपा एजेंट ने तृणमूल पार्टी कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी के विरुद्ध धरना दिया। भाजपा एजेंटों का आरोप है कि उन्हें मतगणना केंद तक पहुंचने ही नही दिया जा रहा। वही भगवानगोला में भी काफी अशांती फैलने की घटना घटी है।

बैरकपुर ब्लाक के 5 ग्रााम पंचायात के मतगणना केंद्र और पुरुलिया के काशीपुर में विरोधी उम्मीद्वारो को पीटकर बाहर निकाल देने का आरोप लगा है। इस विषय पर भाजपा का कहना है कि तृणमूल को इस कैंद्र में अपने हारे जाने के खतरा जानकर ही मतगणना केंद्र पर कब्जा जमाया है।

दक्षिण दिनाजपुर के हरिरामपुर मतगणना केंद्र में भी गड़बडी़ होने की घटना घटी है। आरोप है कि इलाके में बदमाशों ने मतगणना कक्ष से बैलेट बाक्स ही लूट लिया और उसे बाहर फैंक दिया।