दुर्गा पूजा समितियों को सरकारी रुपये देने वाले आदेश पर HC का स्टे

0
139

कोलकाता: कलकत्ता उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल सरकार के दुर्गा पूजा समितियों को 10,000 रुपये देने के आदेश पर रोक लगा दी है। अदालत ने शुक्रवार मामले की सुनवाई करते हुए ममता सरकार के आदेश पर स्टे लगाया और सुनवाई की अगली तारीख 9 अक्टूबर का दिन निर्धारित किया।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा उत्सव के लिए पूरे राज्य के 28,000 पूजा समितियों को कुल 28 करोड़ रूपये देने की घोषणा की थी। मुख्यमंत्री ने कहा था कि उनकी सरकार “समुदाय विकास कार्यक्रम” के तहत प्रत्येक पूजा समितियों को 10,000 रुपये प्रदान करेगी।

सिर्फ कोलकाता में कुल 3000 दुर्गा पूजा समितियां हैं और पश्चिम बंगाल के अन्य राज्यों में यह आंकड़ा बढ़कर कुल 28,000 पंजीकृत पूजा समितियों तक है। मुख्यमंत्री ने नेतजी इंडोर स्टेडियम में यह भी घोषणा की थी कि पूजा समुदायों को लाइसेंस प्राप्त करने के लिए अग्नि विभाग को शुल्क का भुगतान भी नहीं करना पड़ेगा।

पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा को प्रमुख त्यौहारों के रुप में मनाया जाता है। पुरे राज्य में इस त्यौहार को हर्षोल्लास के साथ हर वर्ग हर जाति तबके के लोग मनाते है। कोलकाता की दुर्गा पूजा विश्वभर में प्रसिद्ध है।