कोरोना के खिलाफ शुरू हुआ भारतीय सेना का अभियान ‘नमस्ते’

0
601
file Photo

नई दिल्ली: भारत कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रहा है। देश में 21 दिनों के लिए लाॅकडाउन की घोषणा की गई है। भारतीय सेना भी इस वायरस से लड़ने की पूरी तैयारी में है। भारत में कोरोना के अब तक 724 मामले दर्ज किए गए हैं और 19 लोग मारे गए हैं।

कोरोना वायरस के खिलाफ अब भारतीय सेना ने कमर कस ली है। भारतीय सेना कोरोना के खिलाफ एक आॅपरेशन शुरू करने जा रही है। ऑपरेशन को ‘ऑपरेशन नमस्ते’ नाम दिया गया है। भारतीय सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा है कि सेना अतीत में सभी अभियानों में सफल रही है और वह ‘ऑपरेशन नमस्ते’ को सफलता पूर्वक अंजाम देगी। उन्होंने कहा कि सेना प्रमुख के रूप में, मेरी प्राथमिकता हमारी सेना को सुरक्षित रखना है।

उन्होंने कहा है कि हम अपना कर्तव्य तभी निभा पाएंगे जब हम कोरोनो वायरस के संक्रमण से सुरक्षित होंगे। अगर हमें अपने देशवासियों की मदद करनी है, तो हम उनकी मदद तभी कर पाएंगे, जब हम सुरक्षित, स्वस्थ रहेंगे। सेना की उत्तरी कमान ने अपने सैनिकों को छुट्टी या बाहरी ड्यूटी से लौटते हुए विभिन्न ट्रांजिट कैंपों में स्थापित स्क्रीनिंग केंद्रों को सीधे रिपोर्ट करने के लिए कहा है। यह कदम कोरोना वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए किए जा रहे उपायों के हिस्से के रूप में लिया गया था।

सेना की ओर से देशभर में अब तक आठ क्वारंटाइन सेंटर्स स्थापित किए जा चुके हैं। सेना की ओर से हेल्प लाइन नंबर भी जारी किया गया है। इसके लिए सेना के साउर्थन कमांड, ईस्टर्न कमांड, वेस्टर्न कमांड, सेंट्रल कमांड, नॉदर्न कमांड, साउथ वेस्टर्न कमांड और दिल्ली हेडक्वॉर्टर में कोरोना हेल्प लाइन सेंटर्स बनाए गए हैं। इसके जरिए कोरोना वायरस की चपेट में आए लोगों की मदद की जाएगी। साथ ही, आम नागरिकों को इस संकट से जुड़ी जानकारियां भी दी जाएंगी।

विज्ञापन