सरकार कोई जादूगर व भगवान नहीं हैः ममता बनर्जी

0
386
File Photo

कोलकाताः क्वारंटाइन सेंटरों पर एकाधिक आरोप व विरोध प्रदर्शन को लेकर गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भड़क गईं। वह राज्य सचिवालय नवान्न में संवाददाताओं को संबोधित कर रही थीं। राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था व क्वारंटाइन सेंटर में विरोध प्रदर्शन को लेकर वह भड़क गईं। उन्होंने कहा कि सरकार कोई जादूगर व भगवान नहीं है। क्यों लगातार इसी राज्य को निशाना बनाया जा रहा है।

उन्होंने कहा बंगाल जिस तरह से बगैर किसी के सहयोग से काम कर रहा है वह कोई और राज्य सरकार नहीं कर रही है। उन्होंने राज्य वासियों के लिए कहा कि सरकार और कितना करेंगी? मुफ्त में इलाज, विभिन्न योजनाओं के माध्यम से पैसा, राशन और अम्फार राहत इतना सब कैसे संभव? बावजूद सरकार हर संभव कोशिश करने में लगी हुई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्वारंटाइन सेंटरों में सुविधाएं मिल रही हैं। फिर भी बहुत से लोग विभिन्न आरोप लगाते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं। सीएम ने कहा नियम मानकर चलें। सरकार की भी कुछ सीमाएं हैं। इस दिन मुख्यमंत्री ने कहा कि अब से हर सप्ताह सरकारी दफ्तर सैनिटाइज किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि एक मात्र बंगाल ही ऐसा राज्य है जिसे केन्द्र की तरफ से कोई सहयोग नहीं मिला। बावजूद राज्य सरकार ने अब तक किसी का पैसा नहीं रोका है। राज्य के सरकारी कर्मचारी हर महीने वेतन पा रहे हैं। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार कोरोना से निपटने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। कोविड अस्पतालों की संख्या बढ़ रही है। फिर भी कुछ लोग हैं जो निंदा करने से नहीं चूक रहे हैं।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि आवासनों में कोरोना की रफ्तार बढ़ रही है। इसपर ध्यान देना होगा। राज्य सचिवालय से उन्होंने कहा कि कोलकाता में एक और कोविड अस्पताल तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि डाॅ. आर.अहमद डेंटल काॅलेज को कोविड अस्पताल बनाया जाएगा।

विज्ञापन