नैहाटी धमाकाः 48 घंटे बाद नमूना एकत्र करने पहुंची फोरेंसिक टीम

0
127
File Photo

नैहाटीः फैक्ट्री से बरामद पटाखों को निष्क्रिय करने के दौरान नैहाटी के रामघाट में गुरुवार को भीषण धमाका हुआ था। घटना के 48 घंटे बाद नमूना एकत्र करने के लिए शनिवार को फोरेंसिक टीम पहुंची। धमाका इतना भीषण था कि घटना स्थल पर 10 फुट गहरा गढ्ढा बन गया है।

धमाके के कारण बने गढ्ढे को पुलिस ने प्लास्टिक से ढका गया था। शुक्रवार को घटना स्थल पर फोरेंसिक टीम नहीं पहुंची। शनिवार को घटना के 48 घंटे बाद फोरेंसिक विशेषज्ञों की टीम पहुंची। किन्तु घटना स्थल पर नमूना एकत्र करने में एक और समस्या उत्पन्न हो गई है। धमाके के कारण बने गढ्ढे में पानी भर गया है। इसके कारण नमूनों के नष्ट होने की आशंका जताई जा रही है। स्थानीय लोगों का दावा है कि इससे जांच में समस्या पैदा हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार दोपहर पुलिस नैहाटी के रामघाट के पास जब्त पटाखों को निष्क्रिय कर रही थी। इसी दौरान भीषण धमाका हो गया था। धमाका इतना भीषण था कि गंगा के दोनों तरफ के मकान कांप उठे। प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को बीडीडीएस अधिकारियों ने भी घटना स्थल का दौरा किया। बीडीडीएस अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद करीब 10 फिट गहरा गढ्ढा बन गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 48 घंटे के बाद शनिवार को घटना स्थल पर फोरेंसिक टीम पहुंची। किन्तु ज्वार के कारण धमाके के कारण बने गढ्ढे में पानी एकत्र हो गया। धमाके के कारण बने गढ्ढे में पानी भरने के कारण नमूना नष्ट होने की आशंका जतायी गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना स्थल पर भारी मात्रा में बारूद एकत्र था जो पानी भरने के कारण नष्ट हो गया।

उधर घटना स्थल पर भाजपा सांसद अर्जुन सिंह भी पहुंचे। यहां पर उन्होंने धमाके के कारण प्रभावित लोगों से मुलाकात की। उन्होंने यहां तृणमूल पर निशाना साधते हुए घटना की एनआईए जांच की मांग की।

विज्ञापन