कोरोना महामारी में ईआरपी आपके व्यापार के विकास को रख सकता है संतुलित

0
4120

कोलकाताः अब ये एकदम साफ हो चुका है कि कोविड-19 महामारी का पूरी दुनिया पर व्यापक प्रभाव पड़ा है फिलहाल, यकीन के साथ ये कहना बेहद मुश्किल है कि इस वायरस का प्रकोप किस हद तक होगा। आने वाले समय में कोरोना महामारी का दुनिया पर कितना असर पड़ेगा यह कोई निश्चित तौर पर फिलहाल तो नहीं कह सकता है।

ऐसे में नए कोरोना वायरस की महामारी के कारण अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था, राजनीति और समाज पर पड़ने वाले प्रभाव का पूर्वाकलन करना तो और भी मुश्किल है। लेकिन, आज की तारीख में ये जरूर संभव है कि हम व्यवस्थागत तरीके से उन संभावित क्षेत्रों की पहचान कर सकते हैं, जिन पर इस महामारी का विपरीत प्रभाव पड़ने की आशंका है।

कोरोना महामारी में ईआरपी आपके व्यापार के विकास को संतुलित रख सकता है। ईआरपी यानी की एंटरप्राइज रिसोर्स प्लैनिंग। इसे आप सॉफ्टवेयर के युग में सबसे बड़ा सॉफ्टवेयर मान सकते हैं। इसका सीधा सा मतलब यह समझें कि चाहे कोई भी व्यवसाय है, उसे मैनेज करने के लिए आपको अलग-अलग डिपार्टमेंट के साथ डील करना पड़ता है। जैसे किसी कंपनी में प्रोडक्शन डिपार्टमेंट होता है, तो उसी कंपनी में अकाउंटिंग डिपार्टमेंट भी होता है।

उसी कंपनी में सेल्स डिपार्टमेंट भी कार्य करता है, तो सपोर्ट डिपार्टमेंट भी उस कंपनी के लिए उतना ही आवश्यक होता है। बता दें कि ईआरपी में एक सॉफ्टवेयर के माध्यम से तमाम चीजें सेंट्रलाइज रूप से प्रबंधित की जाती हैं। डिफरेंट डिपार्टमेंट्स इसके माध्यम से इंटरनल कम्युनिकेशन भी आसानी से करते हैं और इस तरीके से कंपनी फंक्शन कर पाती है।

हाल के ही टेक्नावियो की रिपोर्ट के अनुसार, ईआरपी सॉफ्टवेयर का वैश्विक बाजार 2020 से 2024 तक 19.52 बिलियन अमरीकी डालर तक बढ़ने की संभावना है, जो कि इस अवधि में लगभग 9 फीसदी की सीएजीआर से विकसित हो सकती है। बिजमैनवेब (BizzmanWeb) की सीईओ के मुताबिक पूरी दुनिया कोरोना वायरस के चपेट में आ चुकी है।

अब सवाल यह है कि आने वाले समय में व्यापार का क्या भविष्य होगा? हर क्षेत्र का कारोबार कोरोना महामारी के चलते प्रभावित हुआ है। ऐसे में हमें लगता है कि व्यापार के लिए हमें निरंतर रणनीतियों के साथ चलना होगा। यह वह समय है जब हम डिजिटलाइजेशन पर ध्यान केंद्रित करें। ऐसे में कोरोना महामारी के इस दौर में ईआरपी आपके  व्यापार के विकास को संतुलित रख सकता है।

ईआरपी सॉफ्टवेयर किसी भी माहौल में व्यवसायों को आगे बढ़ाने में सक्षम है। इस प्रकार, ईआरपी का कार्यान्वयन कई कंपनियों के एजेंडे पर रहा है। बिजमैनवेब (BizzmanWeb) की सीईओ अबंति सेन कहती हैं कि हम इस कोविड 19 महामारी में अपने ग्राहकों की मदद करने के लिए बहुत खुश हैं।

हमारे आकर्षक ईआरपी समाधानों के साथ, हमारे ग्राहकों को काफी मदद मिलती है। इतना ही नहीं बल्कि हम, हमारे ग्राहकों को डिजिटल सहयोग उपकरण और दूरदराज के काम करने के लिए सुनिश्चित कर सकते हैं। अबंति सेन जिन्होंने साल 2017 में बिजमैनवेब (BizzmanWeb) के अपनी जर्नी शुरू की।

दो वर्षों के बीच उन्होंने 2019 में सिंगापुर में अपने व्यवसाय का विस्तार किया। अबंति के अनुसार जब आप शुरुआत करते हैं तो आपके सामने तमाम तरह की बाधाएं भी आती हैं और अवसर भी मिलते हैं। अबंति सेन कहती हैं वह हमेशा उन चीजों का पता लगाने की कोशिश करती हूं जो उनके ग्राहक अनुभव करते हैं या भविष्य में सामना कर सकते हैं। मेरा आत्म-विश्वास हमेशा मेरे लिए एक प्लस प्वाइंट रहा है।

विज्ञापन