बंगाल में कोरोनाः 24 घंटे में 4,069 नए केस, 64 की मौत

0
613
फाइल फोटो

कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलसिला लगातार जारी है। राज्य में बीते 24 घंटे में एक बार फिर से रिकाॅर्ड 4 हजार से अधिक नए केस सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 60 से अधिक मरीजों की मौत हो गई।

बुधवार को राज्य स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी आंकड़ों के मिताबिक बीते 24 घंटे में 4,069 नए केस सामने आए हैं। इसी के साथ राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 3,33,126 हो गई है। 24 घंटे में 64 मरीजों की मौत के बाद कुल संख्या बढ़कर 6,244 हो गई है। इस वक्त राज्य में कुल 35,579 सक्रिय केस हैं।

24 घंटे में नए केसः स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में कोलकाता में 879, दक्षिण 24 परगना में 245, उत्तर 24 परगना में 872, हुगली 223, हावड़ा में 268, पश्चिम बर्दमान में 101, पूर्व बर्दमान में 108, पूर्व मेदनीपुर में 102, पश्चिम मेदनीपुर में 225, झारग्राम में 31, बांकुड़ा में 55, पुरुलिया में 45, बीरभूम में 57 और नदिया में 180 नए केस सामने आए।

24 घंटे में डिस्चार्जः वहीं बीते 24 घंटे में कोलकाता में 795, दक्षिण 24 परगना में 188, उत्तर 24 परगना में 792, हुगली 146, हावड़ा में 204, पश्चिम बर्दमान में 120, पूर्व बर्दमान में 63, पूर्व मेदनीपुर में 118, पश्चिम मेदनीपुर में 104, झारग्राम में 37, बांकुड़ा में 73, पुरुलिया में 84, बीरभूम में 69 और नदिया में 178 मरीज डिस्चार्ज हुए।

देश में कोरोना के आंकड़ेः केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 46,791 नए केस सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 587 लोगों की मौत हो गई। देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 75,97,064 हो गई है।

 बढ़ाई गई बेडों की संख्याः पूजा की शुरूआत हो चुकी है। पूजा के बाद कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी की आशंका को देखते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सभी सरकारी कोविड अस्पतालों में बेडों की संख्या को बढ़ाने का निर्देश दिया था। सीएम के निर्देश के मुताबिक राज्य के कोविड अस्पतालों में 2000 से अधिक बेडों की संख्या बढ़ाई गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य के सभी सरकारी कोविड अस्पतालों में कुल 1639 ऑक्सिजनेटेड बेड बढ़ाए गए हैं। वहीं 635 आईसीयू बेड बढ़ाए गए हैं। कुल मिलाकर 2,274 बेड बढ़ाए गए हैं। सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ राज्य सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को भी बेडों की संख्या बढ़ाने को कहा है।

विज्ञापन