BREAKING: पूर्व तृणमूल सांसद केडी सिंह को ED ने किया गिरफ्तार

0
299

कोलकाताः तृणमूल कांग्रेस के पूर्व राज्यसभा सांसद केडी सिंह को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गिरफ्तार किया है। बुधवार को केडी को दिल्ली की एक अदालत में पेश किया जाएगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार केडी सिंह को अवैध लेनदेन के मामले में गिरफ्तार किया गया है। अल्केमिस्ट के प्रमुख केडी सिंह को ईडी के अधिकारियों ने दिल्ली से गिरफ्तार किया है।

ईडी के मुताबिक अल्केमिस्ट के नाम पर बाजार से करोड़ों-करोड़ों रुपये विदेशों में तस्करी किए गए। इस मामले में पूछताछ के लिए तृणमूल के पूर्व सांसद केडी सिंह को कल और आज ईडी मुख्यालय बुलाया गया था। ईडी ने दावा किया कि उन्होंने जांच में सहयोग नहीं किया और आखिरकार उन्हें हिरासत में लिया गया।

ईडी के अधिकारियों का कहना है कि उनके खिलाफ कई गंभीर आरोप हैं। कई मामले भी हैं। अल्केमिस्ट चिटफंड का भी उनके खिलाफ एक मामला है। बाजार से करोड़ों रुपये लेने का आरोप है।

केडी सिंह पर आखिर क्या है आरोपः चिटफंड मामले में अल्केमिस्ट के प्रमुख काफी लंबे समय से जांच अधिकारियों की नजर में थे। उनसे कई बार इस मामले में पूछताछ हुई। साल 2019 में ईडी ने लगभग 238 करोड़ रुपये की उनकी संपत्ति जब्त की। ईडी ने कंपनी के कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों को भी जब्त कर लिया।

मामले की जांच कर अधिकारियों के अनुसार ग्राहकों को धोखा देकर कंपनी ने भारी रकम वसूला। यह धोखाधड़ी विभिन्न नामों के तहत कंपनियां खोलकर की गई थी। कंपनी प्लॉट और फ्लैट बेचने के नाम पर भी धोखाधड़ी करती थी। बाद में उस पैसे की तस्करी विदेशों में की जाती थी।

धोखाधड़ी का गंभीर आरोपः साल 2014 में केडी सिंह तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद बने। तभी से वह विभिन्न राजनीतिक दलों के निशाने पर थे। कई नेताओं ने उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। इसके पहले भी कई बार उनसे पूछताछ की जा चुकी है। संपत्ति भी जब्त की गई थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार केडी सिंह ने कथित तौर पर बुधवार की पूछताछ के दौरान जांचकर्ताओं की मदद नहीं की। उसके बाद उन्हें गिरफ्तार करने का निर्णय लिया गया। संभावना है कि उन्हें आज अदालत में पेश किया जाएगा। दूसरी ओर, केडी सिंह की गिरफ्तारी के बाद तृणमूल प्रवक्ता कुणाल घोष ने प्रतिक्रिया दी है। केडी सिंह पर निशाना साधने के अलावा, उन्होंने भाजपा नेता मुकुल रॉय की भी गिरफ्तारी की मांग की। कुणाल ने दावा किया कि मुकुल रॉय को भी इससे फायदा हुआ।

विज्ञापन