पशु तस्करीः विनय मिश्रा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

0
414
File Photo

कोलकाताः केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत ने कोयला और पशु तस्करी मामले के मुख्य आरोपियों में से एक विनय मिश्रा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। आसनसोल की एक सीबीआई अदालत ने विनय मिश्रा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

विधानसभा चुनाव के पहले सीबीआई ने राज्य में पशु और कोयला तस्करी मामले की जांच तेज कर दी है। सीबीआई ने इम मामले में पहले ही कई स्थानों पर छापेमारी की है। इस दौरान सीबीआई ने कोयला और पशु तस्करी से जुड़े कई दस्तावेज जब्त किए हैं।

आईपीएस अधिकारियों से लेकर सीबीआई ने कई लोगों से इस मामले में पूछताछ कर चुकी है। आसनसोल की एक विशेष सीबीआई अदालत ने अनूप मांझी के बाद अब तृणमूल कांग्रेस के नेता विनय मिश्रा के खिलाफ पशु और कोयला तस्करी के आरोप में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

विनय मिश्रा लंबे वक्त से फरार चल रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार तृणमूल नेता विनय मिश्रा के घर की समय-समय पर तलाशी ली जा रही है। मंगलवार को भी विनय मिश्रा के घर की तलाशी ली गई। हालांकि उसका कोई पता नहीं चला है। सीबीआई विनय मिश्रा को दबोचने का हर हथकंडा अपना रही है। इस सिलसिले में विनय मिश्रा के भाई विकास मिश्रा से भी सीबीआई लंबी पूछताछ कर रही है।

सीबीआई के अधिकारी यह पता लगाने की कोशिश में हैं कि विनय मिश्रा का उसके परिवार के किसी सदस्य से संपर्क है या नहीं। जांच अधिकारियों को लगा था कि विनय के बारे में उसके भाई विकास से जानकारी मिलेगी। दो बार उससे पूछताछ की जा चुकी है।

संतोषजनक जवाब न मिलने पर विकास मिश्रा को तीसरी बार भी सीबीआई ने तलब किया था। सीबीआई सूत्रों के अनुसार, पूछताछ के दौरान विकास अपने भाई विनय के बारे में कोई जानकारी नहीं दे सका। इसीलिए इस बार विनय के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है।

विज्ञापन