जम्मू-कश्मीरः आतंकवादियों की अंधाधुंध फायरिंग में दो पुलिसकर्मी शहीद

0
569
पुलिस पर गोलियां बरसाने वाला आतंकी

श्रीनगरः जम्मू-कश्मीर के बारजुल्ला इलाके में आतंकवादियों ने शुक्रवार की दोपहर पुलिसकर्मियों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। आतंकवादियों के इस हमले में दो पुलिसकर्मी शहीद हो गये। बताया जा रहा है कि आतंकवादियों ने पुलिस के जवानों की पीठ पर गोली मारी।

तुरंत जवानों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शहीद पुलिस जवानों की पहचान मोहम्मद यूसुफ और सुहैल अहमद के रूप में हुई है। इस घटना के बाद पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई है। इस हमले की जम्मेदारी आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा की शाखा टीएपीएफ ने ली है।

हमले के बाद टेलिग्राम पर एक पोस्ट में टीआरएफ ने धमकी दी है कि आगे होने वाले हमले इससे भी बड़े और नये तरीके से होंगे। आतंकवादियों ने उस वक्त हमला किया जिस वक्त पुलिसकर्मी वह श्रीनगर एयरपोर्ट को श्रीनगर शहर से जोड़ने वाली सड़क की सुरक्षा में तैनात थे। वहीं पास में बगात बारजुल्ला का थाना भी है।

ये आतंकी हमला 24-सदस्यीय राजनयिक प्रतिनिधिमंडल द्वारा केंद्र शासित प्रदेश की दो दिवसीय यात्रा के समापन के एक दिन बाद हुआ है। वहीं अभी तक शहीद हुए जवानों को लेकर कोई ऑफिशियल स्टेटमेंट नहीं आया है।
बता दें कि आज सुबह ही शोफियां में भारतीय सैनिकों ने तीन आंतकवादियों का एनकाउंटर कर दिया था।

भारतीय सैनिकों को सूचना मिली थी कि कुछ आतंवादी शोपियां में एक घर में छिप कर बैठे हुए हैं और किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। खुफिया जानकारी के आधार पर भारतीय सैनिकों ने स्‍थानीय पुलिस के साथ मिलकर एक टीम तैयार की है और पूरे इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया।

इस अभियान के दौरान भारतीय जवानों ने आंतकवादियों से आत्‍मसमर्पण करने को कहा गया लेकिन आतंकियों ने जवानों पर ही फायरिंग शुरू कर दी। कई घंटों तक हुई फायरिंग के दौरान तीन आंतकवादी मारे गये।

इन आंतकवादियों के पास से दो एके-47 और एक पिस्टल बरामद हुआ है। मारे गये आंतकवादी लश्कर के बताये जा रहे हैं। इसी घटना का बदला लेते हुए आतंकवादी संगठनों ने पुलिसकर्मियों को अपना निशाना बना लिया।

विज्ञापन