भारतीय गेंदबाजों की कोच ने जम कर की तारीफ

0
90

खेल डेस्क: भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने भारतीय टीम के गेंदबाजों की जम कर तारीफ की है। अरुण की आने तो कौशलपूर्ण तेज गेंदबाजों की इकाई में प्रत्येक की विशेष काबिलियत के कारण ही आज भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है। पिछले 20 वर्षों में तेज गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है जिसमें विकेट से ज्यादा उनके कौशल की छाप अमिट रही है।

अरुण ने कहा की वर्तमान में हम दुनिया की नंबर एक टीम हैं। वहां तक पहुंचना ही मुश्किल है और वहां पर बने रहना और भी ज्यादा कठिन है। मुझे लगता है कि पिछले 3 वर्षों में ऐसा करने के लिय आपको लगातार भूखा रहना जरूरी है। भारत के सबसे सफल गेंदबाजी कोच अरुण ने फिर 3 तेज गेंदबाजों में हरेक के बारे में बात की।

इशांत के बारे में उन्होंने कहा की उसने उस वैरिएशन पर से ही काम करना शुरू कर दिया था। इसलिये अगर आप देखो तो उसने विकेट लेने के बाद इशारा किया कि वह बहुत खुश था कि वह ऐसा कर सका।

उन्होंने कहा कि हर बार आप अपनी गेंदबाजी में नये पहलू को तराशने की कोशिश करते हो तो आप लगातार सुधार करते हो। इससे उससे और प्रयोग करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इशांत शायद हमारा सबसे अनुभवी गेंदबाज है। वह 90 से ज्यादा मैच खेल चुका है। वह विभिन्न कोणों से प्रयोग करने की कोशिश करता है। और अब वह जो कुछ करता है, उसकी गेंदबाजी के अनुरूप होता है।

वहीं उन्होंने उमेश के ‘जज्बे’ की प्रशंसा की कि विशेष टीम संयोजन के कारण अंदर बाहर किये जाने के बावजूद उनके आत्मविश्वास में जरा भी कमी नहीं आयी। उन्होंने कहा कि उमेश ने वापसी के बाद शानदार जज्बा दिखाया। लेकिन बुमराह भी उबरकर वापसी की ओर है।

अरुण ने मोहम्मद शमी की ‘सीम पॉजीशन’ को दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बताया। उन्होंने कहा कि शमी में रफ्तार पहले से ही थी। तुलना करना उचित नहीं होगा, लेकिन अगर आप दुनिया के गेंदबाजों को देखो तो शमी के पास शायद सबसे सर्वश्रेष्ठ सीज पाजीशन है।

विज्ञापन